Guru Gobind Singh Ji


Yatri Niwas



संगत को आरामदायक विश्राम स्थल प्रदान करने के लिये महापुरुष लगातार प्रयत्नशील हैं। लगभग ११०० कमरे अब तक पूर्ण रुप से तैयार हो चुके हैं जो यात्रियों के लिये खोल दिये गये हैं। १०,००० से ज्यादा यात्री एक ही समय में गुरुद्वारा साहिब की धर्मशालाओं में ठहर सकते हैं। पूरे डेरे में सफाई की उत्तम व्यवस्था है। २४ घंटे गुरुद्वारा परिसर में बिजली तथा पानी की सप्लाई जारी रहती है। सभी कमरों में उत्तम गुणवत्ता वाले बेड, गद्दे बिछाये गये हैं। यात्रियों के द्वारा कमरा खाली करने के उपरांत उसकी सफाई की जाती है। बेड की चादरें, तकीयों के खोल, कंबल वगैरह बदली किये जाते हैं भले ही कुछ घंटो के लिये किसी यात्री नें कमरा लिया हो। निम्नलिखित यात्री निवास गुरुद्वारा लंगर साहिब परिसर में बन चुके हैं या निर्माणाधीन हैं
श्री गुरु नानक देव जी यात्री निवास
Shri Guru Nanakdevji Yatri Niwas

यह एक पांच मंजिला बड़ी धर्मशाला है जिसमें तकरीबन एक सौ पच्चीस अटैच कमरे हैं।.


श्री गुरु गोबिंद सिंघ जी यात्री निवास
 Shri Guru Gobind Singh Ji Yatri Niwas
यह चार मंजिला इमारत है। इस में एक सौ पच्चीस अटैच कमरे हैं। कुछ कमरे वातानुकूलित हैं। इस धर्मशाला में एक बड़ा हॉल भी है। सन् २००० ई. में इस धर्मशाला का निर्माण संत बाबा शीशा सिंघ जी ने पूर्ण करवाया तथा इसे संगत के लिये खोल दिया था।


श्री गुरु हरिगोबिंद साहिब जी यात्री निवास
Shri Guru Hargobindji Yatri Niwas
इस यात्री निवास में करीब साठ अटैच कमरे हैं। संत बाबा शीशा सिंघ जी ने इस यात्री निवास का निर्माण करवाया था तथा इसे सन् २००३ ई.यात्रियों के लिये खोल दिया गया था।


संत बाबा आत्मा सिंघ जी मोनी निवास
 
इस इमारत में करीब पचास कमरे हैं। गुरुद्वारा साहिब के सेवादार, पाठी सिंघ आदि यहाँ निवास करते हैं।


संत बाबा हरनाम सिंघ जी यात्री निवास
Sant Baba Harnam Singh Ji Yatri Niwas
इस यात्री निवास में करीब चालीस अटैच कमरे हैं। यह तीन मंजिला इमारत है । संत बाबा शीशा सिंघ जी ने इस यात्री निवास का निर्माण करवाया था तथा सन् १९९० में यह सराय यात्रियों के लिये खोल दी गई थी।


श्री गुरु अरजन देव जी महल
Shri Guru Arjundevji Mahal
यह इमारत निर्माण कला का उत्कृष्ट नमुना है। यह गुरुद्वारा साहिब के मुख्य प्रवेश द्वार के बगल में बनी हुई है। संत बाबा नरिंदर सिंघ जी कार सेवा वाले इस धर्मशाला की सेवा करवा रहे हैं।












Guru Nanak Dev Ji